Courses Details

Testimonials

Primary memory kya hota hai-प्राइमरी मेमोरी क्या होता है?

Start Date 01,January 1970

|

Ashwani Soni

|

60 hours

|

454 Join

|

English, Hindi

|

Computer

Description


Primary memory kya hota hai-प्राइमरी मेमोरी क्या होता है?

हेल्लो दोस्तों आज के इस पोस्ट में आपको Primary memory kya hota hai के बारे में बताया जा रहा है तो चलिए शुरू करते है

Primary Memory – प्राइमरी मेमोरी

प्राइमरी मेमोरी कंप्यूटर सिस्टम की मेन मेमोरी होती है जो सिस्टम के प्राथमिक कार्य के लिए ममारी उपलब्ध कराती RAM 311 ROM

 RAM-Random Access Memory

यह सीपीयू द्वारा उपयोग किया जाने वाला एक अस्थायी (वोलाटाईल) स्टोरेज एरिया है। प्रोग्राम चलने से पहले प्रोमा को मेमोरी में लोड किया जाता है जो सीपीयू को प्रोग्राम तक सीधे पहुंचने की अनुमति देता है।

SRAM

संक्षिप्त स्टैटिक रैंडम एक्सेस मेमोरी है जो अधिक कॉमन DRAM (डायनेमिक रैम) की तुलना में तेज और अधिक विश्वसनीय है। स्टैटिक शब्द इस तथ्य से लिया गया है कि इसे डायनेमिक रैम की तरह ताजा करने की आवश्यकता नहीं है। SRAM को अक्सर केवल CPU (L1, L2 और L3 Cache) में पाए जाने वाले मेमोरी कैश के रूप में उपयोग किया जाता है।

DRAM : इसका अर्थ है डायनेमिक रैंडम एक्सेस मेमोरी, यह एक प्रकार की मेमोरी जो अधिकांश पर्सनल कंप्यूटर में उपयोग की जाती है।

SDRAM : यह सिंक्रोनस डायनामिक RAM होता है,एक नया प्रकार का DRAM जो पारंपरिक मेमोरी की तुलना में बहुत अधिक गति से चल सकता है। SDRAM वास्तव में CPU के साथ सिंक्रोनाइज हो जाता है।

✓ DDR2-SDRAM:इसका अर्थ है डबल डाटा रेट सिंक्रोनस डीरैम 2, यह एक DRAM का प्रकार होता है DDR जो अपने एनसेस्टर DDR SDRAM की तुलना में उच्च गति का समर्थन करता है।

• DDR3-इसका अर्थ है डबल डाटा रेट सिंक्रोनस डीरैम 3, यह DRAM का बिलकुल नया प्रकार है जो इसके सभी प्रकार के मेमोरी से तेज कार्य करता है।

इसे भी देखे-

  • gg

ROM (Read only Memory)

कंप्यूटर में हमेशा थोड़ी मात्रा में रीड-ओनली मेमोरी होती है जो कंप्यूटर को प्रारम्भ करने के लिए निर्देश रखती है। RAM के विपरीत, ROM को नहीं लिखा जा सकता है। यह नॉन-वोलाटाईल है जिसका मतलब है कि एक बार जब

आप कंप्यूटर को बंद कर देते हैं तो जानकारी वही है।

PROM (Programmable Read-Only Memory)

एक PROM एक मेमोरी चिप है जिस पर डेटा केवल एक बार लिखा जा सकता है। एक PROM और एक ROM (कवल पढ़ने वाली मेमोरी) के बीच का अंतर यह है कि एक PROM रिक्त मेमोरी के रूप में निर्मित होता है, जबकि एक ROM निर्माण प्रक्रिया के दौरान क्रमादेशित होता है।

EPROM (Erasable Programmable Read-Only Memory)

जिसे पराबैंगनी प्रकाश में एक्सपोज करके हटाया जा सकता है। एक बार जब यह मिट जाता है, तो इसे फिर से शुरू किया जा सकता है। एक EEPROM एक PROM के समान है, लेकिन इसे मिटाने के लिए केवल विद्युतकी आवश्यकता होती है।

EEPROM (Electrically Erasable Programmable Read-Only Memory)

 उच्चारण double-EE-prom या e-e-prom, एक EEPROM एक विशेष प्रकार का PROM है जिसे विद्युत आवेश में लाकर मिटाया जा सकता है। अन्य प्रकार के PROM की तरह, EEPROM विद्युत बंद होने पर भी कंटेंट्स को बरकरार रखता है। इसके अलावा अन्य प्रकार के ROM की तरह, EEPROM भी RAM की तरह तेज नहीं है। EEPROM फ्लैश मेमोरी (कभी-कभी पलैश EEPROM कहा जाता है) के समान है।

reference-https://javahindi.com/networking-in-hindi/

निवेदन-आप सभी छात्र छात्रो से निवेदन है की अगर आपको यह कंटेंट( Primary memory kya hota hai ) आपके लिए उपयोगी( Primary memory kya hota hai ) रहा हो तो आप दुसरे के साथ भी शेयर करे अपने तक ही सिमित न रखे

TAGS

Share

04 Comments

Kevin Martin Sep 15, 2020

Reply

Sit amet nibh vulputate cursus a sit amet mauris lorem ipsum dolor sit amet of Lorem Ipsum. Proin gravida nibh vel velit auctor aliquet. Aenean sollicitudin, lorem quis bibendum auctor, nisi elit consequat ipsum, nec sagittis sem nibh id elit. Duis sed odio http://themeforest.net Morbi accumsan ipsum velit. Nam nec tellus a odio tincidunt auctor a ornare odio. Sed non mauris vitae erat

Kevin Martin Sep 15, 2020

Reply

Vel velit auctor aliquet. Aenean sollicitudin, lorem quis bibendum auctor Lorem ipsum dolor sit amet of Lorem Ipsum. Proin gravida nibh..

Kevin Martin Sep 15, 2020

Reply

Aenean sollicitudin, lorem quis bibendum auctor Lorem ipsum dolor sit amet of Lorem Ipsum. Proin gravida nibh vel velit auctor aliquet..

Kevin Martin Sep 15, 2020

Reply

Bibendum auctor Lorem ipsum dolor sit amet of Lorem Ipsum. Proin gravida nibh vel velit auctor aliquet. Aenean sollicitudin, lorem quis, nisi elit consequat ipsum, nec sagittis sem nibh id elit. Duis sed odio sit amet nibh vulputate cursus a sit amet mauris http://themeforest.net Morbi accumsan ipsum velit. Nam nec tellus a odio tincidunt auctor a ornare odio. Sed non mauris vitae erat

Leave a Reply

Please enter your name
Please enter your email address
Please enter mobile number
Please enter Website URL
Please enter feedback