Basic of Hardware and software in hindi-हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर की मूल

हेल्लो दोस्तों आज के इस पोस्ट में आपको Basic of Hardware and software in hindi के बारे में बताया जा रहा है तो चलिए शुरू करते है

हार्डवेयर और सॉफ्टवेर की मूल बाते

हार्डवेयर(hardware) एक कंप्यूटर का फिजिकल भाग होता है और  सॉफ्टवेयर जो हार्डवेयर के कार्यों को पूरा करने के लिए निर्देश प्रदान करते हैं हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बीच की बाउंड्री को हम फ्रेमवेयर  कहते हैं जो सॉफ्टवेयर के माध्यम से जुड़ी हुई है और हार्डवेयर में अंतर्निहित हो जाती है

कंप्यूटर प्रणाली में, विभिन्न कार्यों को करने के लिए निम्नलिखित हार्डवेयर घटक उपलब्ध होते हैं

मदर बोर्ड

यह  कंप्यूटर सिस्टम के अंदर सबसे बड़ा इलेक्ट्रॉनिक सर्किट(electronic circuit) बोर्ड होते हैं जोकि सीपीयू(CPU) मेन मेन्यू(Main Manu) मेमोरी और अन्य भागो को रखता है और इसमें एक्सपेंशन(expansion) कार्ड  के लिए स्लाट्स  होते हैं

SMPS(switch mode power supply)

यहां अल्टरनेटिंग करंट(alternative current) को डायरेक्ट करंट(direct current) मैं बदलता है और पूरे कंप्यूटर को करंट प्रदान करता है

स्टोरेज कंट्रोलर्स(storage controllers)

IDE,SCSI या अन्य प्रकार की स्टोरेज कंट्रोलर्स जो हार्ड डिक्स फ्लॉपी डिस्क सीडी रोम और अन्य ड्राइव को कंट्रोल करते हैं कंट्रोलर सीधे मदरबोर्ड या एक्सपेंशन कार्ड पर स्थित होते हैं

ग्राफिक्स कंट्रोलर(graphics controllers)

यह मॉनिटर के लिए आउटपुट  प्रदान करता है

मांस स्टोरेज के लिए हार्ड डिक्स फ्लॉपी डिस्क और अन्य डिवाइस का उपयोग होता है

इंटरफेस कंट्रोलर(interface controllers)– इंटरफ्रेंस कंट्रोलर (parallel ,serial,USB ,firewire ) एक्सटर्नल पेरीफेरल डिवाइस से कंप्यूटर को कनेक्ट करने के लिए होता है जैसे कि प्रिंटर स्कैनर

सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट(cpu)

 प्रोसेसिंग डिवाइस का अर्थ होता है कैलकुलेशन कंपैरिजन और डिसीजन ,सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट एक  प्रोसेसिंग डिवाइस होती है जिसे माइक्रो प्रोसेसर भी कहा जाता है जो कंप्यूटर में एक छोटी सी चिप  होती है जो इनपुट यूनिट से इनपुट प्राप्त करता है और इनपुट को प्रोसेस करता है फिर आउटपुट डिवाइस को आउटपुट  प्रदान करता है यह सिलिकॉन से बना होता है और इसमें लाखों ट्रांजिस्टर होती है जैसे कि पेंदियम ,डुअल कोर कोर 2 डुओ कोर i3 i5 i7 आदि माइक्रोप्रोसेसर है इसमें अर्थमैटिक लॉजिक यूनिट कंट्रोल यूनिट मेमोरी यूनिट आदि शामिल होती है

डायग्राम

सभी तरह कंप्यूटर्स चाहे माइक्रो मिनी या मेनफ्रेम तीन भागों का होना चाहिए

अर्थमैटिक लॉजिक यूनिट(ALU)

यह  कंप्यूटर प्रोसेसर सीपीयू का हिस्सा  होता है जिसका उपयोग अर्थमैटिक और लॉजिकल ऑपरेशन हेतु किया जाता है यह अर्थमैटिक लॉजिक यूनिट को आगे दो भागों में विभाजित किया जाता है

अर्थमैटिक यूनिट और लॉजिक यूनिट

 example  के लिए यह सरल अंकगणितीय संचालन जैसे +,-,*,/ और तार्किक संचालन जैसे>,<,=<,<= आदि करता है

कंट्रोल यूनिट(cu)

 कंट्रोल यूनिट मुख्य बॉस  की तरह कार्य करता है और processor  की सभी गतिविधियों को संपादित करता है कंप्यूटर में प्रयुक्त प्रोसेसर आंशिक रूप से सिलिका से बना होता है दूसरे शब्दों में डाटा प्रोसेसिंग के लिए इस्तेमाल की जाने वाली सिलिकॉन चिप को  माइक्रो प्रोसेसर कहा जाता है प्रोग्रामिंग प्रोग्रामिंग निर्देशों का उपयोग करते हुए यह प्रशासन के माध्यम से सूचना के प्रभाव को नियंत्रित करता है जो processor  के अंदर होता है यह  कंप्यूटर के विभिन्न कंपोनेंट का प्रबंधन करता है

मेमोरी यूनिट(MU)

 मेमोरी का उपयोग प्रोसेसिंग से पहले और बाद में डाटा और निदेशक को संग्रहित करने के लिए किया जाता है दो प्रकार की मेमोरी यूनिट होती है जिला प्राथमिक और सेकेंडरी मेमोरी कहा जाता है

निवेदन-आप सभी छात्र छात्रो से निवेदन है की अगर आपको यह कंटेंट( Basic of Hardware and software in hindi) आपके लिए उपयोगी() रहा हो तो आप दुसरे के साथ भी शेयर करे अपने तक ही सिमित न रखे धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *